HEALTH

महिला स्वास्थ्य

महिलाएं समाज का हिस्सा होती है, बिना महिलाओं के समाज की कल्पना करना व्यर्थ है। ऐसे में घर परिवार एवं समाज का कर्तव्य बनता है कि महिलाओं के स्वास्थ्य की देखभाल करें। महिलाओं को भी पुरुषों की ही तरह स्वास्थ्य के उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ता है। परंतु महिलाओं की कुछ स्वास्थ्य समस्याओं पुरुषों की अपेक्षा बिल्कुल भिन्न होती है। महिलाओं की स्वास्थ्य समस्याएं अलग होने के कारण उनके दुष्प्रभाव भी अलग-अलग होते है।  

महिलाओं में कुछ ऐसी ही स्वास्थ्य समस्याएं होती है जिसके वह पुरुषों से अलग होती है। मासिक धर्म,रजोनिवृत्ति, गर्भावस्था, प्रसव इत्यादि सभी समस्याएं महिलाओं के जीवन का अभिन्न हिस्सा होती है। महिलाओं को शुरुआत से ही दोयम दर्जे के भाव से देखा गया है। यह केवल भारत ही नही बल्कि दुनिया के अन्य देशों में भी महिलाओं की सामाजिक हिस्सेदारी पुरुषों की अपेक्षा थोड़ी सी कम है। 

इन्हीं वजहों से महिलाओं के स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का उपचार एवं उसकी देखभाल पर बहुत कम ही ध्यान दिया गया है। समय के बदलाव के साथ-साथ अब महिला अब महिला स्वास्थ्य की बात तो सभी करते है पर  फिर भी महिला स्वास्थ्य में बहुत ज्यादा सुधार अभी भी नही हुआ है।